आईएस के अंतिम गढ़ में 3,000 आतंकियों का समर्पण

By Independent Mail | Last Updated: Mar 14 2019 1:32AM
आईएस के अंतिम गढ़ में 3,000 आतंकियों का समर्पण

सीरिया के सिर्फ बघूज इलाके में ही आईएस आतंकियों का कब्जा

एजेंसी, दमिश्क। सीरिया के बघूज में आईएसआईएस के तीन हजार आतंकियों ने आत्मसमर्पण किया है। आतंकियों के परिवारों ने भी सरेंडर किया है। सीरिया का बघूज आईएस के कब्जे वाला अंतिम इलाका है। कुर्दिश अगुआई वाली फौजों का कहना है कि जल्द ही इस शहर पर उनका आधिपत्य हो जाएगा। 2014 में आईएस ने खलीफा के शासन की घोषणा करते हुए इराक और सीरिया के ज्यादातर इलाकों पर कब्जा कर लिया था। सीरिया के पूर्वी गांव बघूज में अभी भी आईएस के टूटे-फूटे कैंप देखे जा सकते हैं। अमेरिकी समर्थन वाली सीरियाई डेमोक्रेटिक फौजें आईएस आतंकियों को पकड़ने की कोशिश कर रही हैं, लेकिन नदी के किनारे बसे गांवों से पुरुषों, महिलाओं और बच्चों की भीड़ ने इसे रोक दिया है। बघूज में लगातार तीन रातों से एयर स्ट्राइक और गोलीबारी जारी है। इसमें कई आतंकी मारे जा चुके हैं। इसके चलते आतंकियों के कई रिश्तेदारों ने आत्मसमर्पण कर दिया। अमेरिकी समर्थन वाली एसडीएफ फौजौं ने रविवार को आतंकियों को चेतावनी दी थी कि अब उनका समय पूरा हो चुका है। मंगलवार को तीन हजार आतंकियों ने फौजों के सामने खुद को सौंप दिया। संयुक्त फौजों ने बघूज में मंगलवार शाम से जमकर गोलीबारी की और आतंकियों को संभलने का मौका नहीं दिया। लिहाजा लोगों को आत्मसमर्पण करना पड़ा। फौज के यूनिट कमांडर के मुताबिक-हम आतंकियों पर बड़ा हमला करने की तैयारी कर रहे हैं। हमारा आत्मविश्वास चरम पर है। हम पूरी सेना के साथ बघूज में घुसेंगे और आतंकियों को उखाड़ फेंकेंगे। हमारी कार्रवाई का मकसद आतंकियों को आत्मसमर्पण के लिए मजबूर करना है ताकि सिविलियंस बाहर आएं।

image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved