अमेरिकी थिंक टैंक ने की 'आयुष्मान भारत योजना' की तारीफ

By Independent Mail | Last Updated: May 12 2019 9:36AM
अमेरिकी थिंक टैंक ने की ''आयुष्मान भारत योजना'' की तारीफ

योजना को सार्वभौम स्वास्थ्य कवरेज की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम बताया

वॉशिंगटन। पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार जहां आयुष्मान भारत योजना की खूबियां गिना चुनाव में इसका जोर-शोर से प्रचार कर रही है वहीं अब अमेरिका के एक शीर्ष थिंक-टैंक ने भी इस स्वास्थ्य योजना को तारीफ की है। अमेरिकी थिंक टैंक ने कहा कि भारत की महत्वाकांक्षी स्वास्थ्य बीमा योजना 'आयुष्मान भारत' सार्वभौम स्वास्थ्य कवरेज की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है, लेकिन सरकार को सुनिश्चित करना चाहिए कि यह ठोस तरीके से काम करे और भारतीयों को अच्छी गुणवत्ता वाली देखभाल मुहैया कराए।

लागत और गुणवत्ता से संबंधित चुनौतियां भी गिनाईं

वॉशिंगटन डीसी स्थित सेंटर फॉर ग्लोबल डिवेलपमेंट (सीजीडी) नाम के थिंक-टैंक के शोधकर्ताओं ने प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएम-जय) के प्रथम वर्ष के विश्लेषण के आधार पर कहा कि कुल मिलाकर प्रयास सकारात्मक रहा है। हालांकि, उन्होंने लागत और गुणवत्ता से संबंधित कुछ चुनौतियां भी गिनाईं और कहा कि अगर इनसे नहीं निपटा गया तो इससे योजना की प्रगति पटरी से उतर सकती है। सीजीडी की मुख्य परिचालन अधिकारी (सीओओ) और अध्ययन के लेखकों में शामिल अमांडा ग्लासमैन ने बताया, 'मोदीकेयर (आयुष्मान भारत योजना) के कारण करोड़ों लोग स्वास्थ्य देखभाल का लाभ ले रहे हैं, जिससे सरकार द्वारा वित्तपोषित स्वास्थ्य बीमा ले रहे लोगों की संख्या में इजाफा हुआ है और शुरुआती अनुमानों से यह संख्या कहीं ज्यादा है।'

सुधार के लिए अभी काफी कुछ करना बाकी

रिपोर्ट जारी होने से पहले ग्लासमैन ने कहा, 'हमने पाया कि 50 करोड़ से ज्यादा लोग अब 'मोदीकेयर' की कवरेज या सरकार प्रायोजित कार्यक्रम के लिए पात्र हैं। यह काफी शानदार संख्या है, लेकिन लागत को कम करने और गुणवत्ता में सुधार करने के लिए अभी काफी कुछ करना बाकी है।'

image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved