सिख दंगों की जांच के लिए एसआईटी गठित

By Independent Mail | Last Updated: Feb 7 2019 2:37AM
सिख दंगों की जांच के लिए एसआईटी गठित

एजेंसी, लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने कानपुर में 1984 में हुए सिख विरोधी दंगों की जांच के लिए चार सदस्यों का विशेष जांच दल (एसआईटी) गठित कर दिया है। पुलिस के एक अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस दल को उन मामलों की जांच सौंपी गई है, जिनमें दंगों के फौरन बाद हुई जांच के बाद आरोपियों को मुक्त कर दिया गया था। यह दल सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर गठित किया गया है, जो छह महीने में राज्य सरकार को अपनी रिपोर्ट सौंपेगा। बता दें कि हाल ही में दंगा पीड़ित मनजीत सिंह की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार को निर्देश दिया था कि वह एसआईटी बनाकर मामलों की जांच कराए। 1984 के दंगों के दौरान कानपुर में बहुत से सिखों की सड़कों पर हत्या कर दी गई थी और ऐसे बहुत से मामले नजीराबाद और बजारिया पुलिस थानों में दर्ज हैं।

ये हैं सदस्य

जांच दल का नेतृत्व उत्तर प्रदेश के पूर्व डीजीपी अतुल करेंगे। कानपुर के सेवानिवृत्त जिला न्यायाधीश सुभाष चंद्र अग्रवाल और सेवानिवृत्त अतिरिक्त निदेशक (अभियोजन) योगेश्वर कृष्ण श्रीवास्तव को भी इस दल में शामिल किया गया है।

image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved