सबरीमाला पर केरल में घमासान

By Independent Mail | Last Updated: Oct 17 2018 9:52PM
सबरीमाला पर केरल में घमासान

एजेंसी, तिरुवनंतपुरम। केरल के सबरीमाला मंदिर के कपाट बुधवार शाम पांच बजे खुलने के बाद भी बवाल थमा नहीं। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद मंदिर में पहली बार 10 साल की बच्चियों से लेकर 50 साल की महिलाएं भी प्रवेश की हकदार हो गई हैं, लेकिन इसे मसले पर जबर्दस्त घमासान छिड़ा हुआ है और प्रदर्शन हो रहे हैं। मंदिर की तरफ जाने वाले रास्तों को प्रदर्शनकारियों ने रोक रखा है और महिलाओं को वापस भेजा जा रहा है। इस बीच, केरल के निल्लकल, पंपा, एल्वाकुलम, सन्निधनम में धारा 144 लागू कर दी गई है।

हिंसा पर केंद्र की भी नजर

केंद्रीय गृह मंत्रालय में केरल में बुधवार को हुई हिंसा का संज्ञान लिया है। क्षेत्र में बड़ी संख्या में पुलिस की तैनाती के बावजूद दर्शन के लिए जा रहीं महिलाओं को लौटा दिया गया है। उधर, प्रदर्शनकारियों ने मीडिया पर भी हमला बोल दिया। निलक्कल के रास्ते में प्रदर्शनकारियों ने कुछ चैनलों के पत्रकारों और उनकी टीम को निशाना बनाया है। बाद में पुलिस ने अपनी गाड़ी में उन्हें सुरक्षित वहां से बाहर निकाला। उधर, पुलिस ने निलक्कल और पंपा में विरोध कर रहे त्रावणकोर देवासम बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष सहित 50 लोगों को हिरासत में लिया है।

विधि-विधान से हुई पूजा

इससे पहले ठीक पांच बजे मंदिर के कपाट खुले और पूरे विधि-विधान से पुजारियों ने भगवान अयप्पा की पूजा की। श्रद्धालु रात साढ़े बजे तक भगवान अयप्पा के दर्शन करते रहे।

हिंसा पर राजनीति शुरू

केरल सरकार के मंत्री ईपी जयराजन ने हिंसा के पीछे बीजेपी और आरएसएस का हाथ होने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि केरल राज्य परिवहन निगम की 10 बसों को नुकसान पहुंचाया गया है। दूसरे राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं को पीटा गया है। जयराजन ने कहा कि आरएसएस के अपराधियों ने जंगलों में छिपकर अयप्पा के श्रद्धालुओं पर हमला किया है। 10 पत्रकारों, पांच श्रद्धालुओं और 15 पुलिसकर्मियों पर हमला किया गया है।

महिला को लौटाया वापस

आंध्र प्रदेश की एक महिला को प्रदर्शनों के कारण भगवान अयप्पा के दर्शन किए बगैर पंपा से लौटना पड़ा। आंध्र प्रदेश की पूर्वी गोदावरी जिला निवासी माधवी शीर्ष अदालत के फैसले के बाद सबरीमाला पहाड़ी पर चढ़ने वाली पहली रजस्वला महिला हैं।

image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved