भारत की नजरें एक और घरेलू श्रृंखला जीतने पर

By Independent Mail | Last Updated: Oct 31 2018 7:45PM
भारत की नजरें एक और घरेलू श्रृंखला जीतने पर

एजेंसी, तिरूवनंतपुरम। भारत गुरुवार को यहां वेस्टइंडीज के खिलाफ पांचवें और अंतिम एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में एक और घरेलू श्रृंखला जीतने के इरादे से उतरेगा। यहां लगभग तीन दशक पहले पिछली बार 50 ओवर के अंतरराष्ट्रीय मैच की मेजबानी की गई थी और उस समय वेस्टइंडीज की टीम काफी मजबूत मानी जाती थी। भारत ने पिछली बार घरेलू वनडे श्रृंखला 2015 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ गंवाई थी और तब से स्वदेश में उसका अजेय अभियान जारी है। भारत अभी पांच मैचों की श्रृंखला में 2-1 से आगे चल रहा है जिसका एक मैच टाई भी रहा। भारत को हालांकि श्रृंखला के दौरान वेस्टइंडीज की कड़ी चुनौती का सामना करना पड़ा है जिसमें पुणे में तीसरे वनडे में हार भी शामिल है। भारत दौरे पर यह वेस्टइंडीज की पहली जीत थी। मैच के दौरान हालांकि बारिश की भविष्यवाणी की गई है।

बड़े अंतर से जीता था चौथा मैच

विराट कोहली की अगुआई वाली भारतीय टीम ने पुणे में हार के बाद वापसी करते हुए मुंबई में चौथे वनडे में विरोधी टीम को 224 रन से रौंद दिया था और टीम को उम्मीद होगी कि पांचवें वनडे में भी वे इस लय में बरकार रखेंगे। तिरूवनंतपुरम में पिछला वनडे भी भारत और वेस्टइंडीज के बीच ही खेला गया था और तब वेस्टइंडीज ने आसान जीत दर्ज की थी। जेसन होल्डर की टीम उस समय की दिग्गज टीम से प्रेरणा लेकर श्रृंखला बराबर करना चाहेगी। इंग्लैंड में अगले साल जून में होने वाले विश्व कप को देखते हुए दोनों टीमें इस श्रृंखला के जरिए अपना संयोजन तय करने की कोशिश में हैं।

फॉर्म में है कोहली और रोहित

कोहली और रोहित शर्मा बेहतरीन फॉर्म में हैं और श्रृंखला में क्रमश: तीन और दो शतक जड़ चुके हैं। कप्तान का समर्थन हासिल करने वाले अंबाती रायुडू ने भी पिछले मैच में शतकीय पारी खेली थी। बाकी बल्लेबाज हालांकि उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन करने में नाकाम रहे हैं। सलामी बल्लेबाज शिखर धवन अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठा पाए हैं जबकि अनुभवी महेंद्र सिंह धोनी को भी बल्ले से खराब फॉर्म का सामना करना पड़ रहा है।ऑस्ट्रेलिया में टी20 श्रृंखला के लिए घोषित भारतीय टीम में जगह गंवाने वाले धोनी को बल्ले से भी अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी जबकि विकेट के पीछे वह शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। भारत की ओर से 10000 रन पूरे करने के लिए धोनी को सिर्फ एक रन की दरकार हैं। उन्होंने 124 रन एशिया एकादश की ओर से बनाए हैं।

बुमराह की वापसी रही लाभदायक

जसप्रीत बुमराह की वापसी से भारत का गेंदबाजी आक्रमण मजबूत हुआ है और पिछले दोनों मैचों में उन्होंने अपनी उपयोगिता साबित की है। बायें हाथ के युवा तेज गेंदबाज खलील अहमद ने ब्रेबोर्न स्टेडियम में शानदार गेंदबाजी की। कोहली को भुवनेश्वर कुमार से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी जो अब तब उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पाए हैं। स्पिनरों ने कैरेबियाई बल्लेबाजों को परेशान किया है। कुलदीप यादव के सामने वेस्टइंडीज के अधिकांश बल्लेबाज जूझते रहे हैं जबकि युजवेंद्र चहल को पिछले मैच में बाहर करके उनकी जगह रविंद्र जडेजा को मौका दिया गया था। दूसरी तरफ टेस्ट मैचों में करारी हार के बाद मेहमान टीम ने वनडे में उतार-चढ़ाव भरा प्रदर्शन किया है।

होल्डर के अलावा बल्लेबाजी कमजोर

शिमरोन हेटमायेर और शाई होप ने सबसे अधिक प्रभावित किया है। दोनों ने अब तक एक-एक शतक जड़ा है। कप्तान जेसन होल्डर ने दिखाया है कि वह भारतीय स्पिनरों का अच्छी तरह सामना कर सकते हैं लेकिन टीम के अन्य बल्लेबाज जूझते दिखे हैं। होल्डर को उम्मीद होगी कि उनकी टीम एकजुट प्रदर्शन के साथ अंतिम मैच जीतकर भारत को श्रृंखला जीतने से महरूम कर देगी। लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे आफ स्पिनर एश्ले नर्स को मुंबई में चोट लगी थी और उनका अंतिम मैच में खेलना संदिग्ध है। उनकी गैरमौजूदगी में वेस्टइंडीज की संभावनाओं को झटका लग सकता है। यह मैच नए ग्रीनफील्ड स्टेडियम में दूसरा अंतरराष्ट्रीय मैच होगा और स्टेडियम के खचाखच भरा होने की उम्मीद की जा रही है लेकिन मौसम अहम भूमिका निभा सकता है।

टीमें

भारत

विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, अंबाती रायुडू, ऋषभ पंत, महेंद्र सिंह धोनी, रविंद्र जडेजा, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, खलील अहमद, उमेश यादव, लोकेश राहुल, मनीष पांडे और केदार जाधव।

वेस्टइंडीज

जेसन होल्डर (कप्तान), फाबियान एलेन, सुनील अंबरीश, देवेंद्र बिशू, चंद्रपाल हेमराज, शिमरोन हेटमायेर, शाई होप, अल्जारी जोसेफ, एविन लुईस, एश्ले नर्स, कीमो पाल, रोवमैन पावेल, केमार रोच और मार्लन सैमुअल्स।

image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved