खालिस्तानी आतंकी की मौजूदगी में करतारपुर कॉरिडोर का शिलान्यास

By Independent Mail | Last Updated: Dec 8 2018 9:29AM
खालिस्तानी आतंकी की मौजूदगी में करतारपुर कॉरिडोर का शिलान्यास

एजेंसी, करतारपुर। भारत के बाद पाकिस्तान में भी बुधवार को सीमा के करीब स्थित सिखों के पवित्र धार्मिक स्थल करतारपुर साहिब कॉरिडोर की नींव डाल दी गई। पाकिस्तानी पीएम इमरान खान ने कॉरिडोर का शिलान्यास किया। समारोह में पाकिस्तान के न्योते पर भारत सरकार के दो मंत्री हरसिमरत कौर, हरदीप पुरी और पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू हिस्सा लेने पहुंचे थे। समारोह में आतंकी सरगना हाफिज सईद का करीबी और खालिस्तान समर्थक गोपाल चावला भी मौजूद था। वह पाकिस्तानी सेना प्रमुख जावेद बाजवा से हाथ मिलाता हुआ भी नजर आया। कार्यक्रम में एक फिल्म दिखाई गई, जिसमें जिन्ना से लेकर नवजोत सिंह सिद्धू तक के बयानों को दिखाया गया। कार्यक्रम में सिद्धू ने करतारपुर साहिब कॉरिडोर पर आगे बढ़ने के लिए इमरान खान की जमकर तारीफ की। कार्यक्रम में पाकिस्तान के आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा भी मौजूद रहे। खास बात यह रही कि गोपाल चावला उनके ही पास बैठा था।

भारत से दोस्ती चाहता है पाक: इमरान

कार्यक्रम में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने दुश्मनी भूल दोस्ती की राह पर आगे बढ़ने की बात कही है। पाक सरकार और सेना के बीच अक्सर मतभेद की चर्चा का जिक्र करते हुए उन्होंने साफ कहा कि भारत से बेहतर रिश्ते को लेकर देश की सरकार और फौज की राय एक है। इमरान ने कहा कि दोनों तरफ से गलतियां हुईं हैं, लेकिन जर्मनी और जापान लड़ाई में करोड़ों लोगों का कत्ल कर चुके हैं। जब वे दोनों दोस्त हो सकते हैं, भारत और पाकिस्तान क्यों नहीं? उन्होंने कहा कि हम एक कदम आगे बढ़ कर दो कदम पीछे चले जाते हैं।

पाकिस्तान नहीं जाएंगे प्रधानमंत्री: सुषमा

एजेंसी, हैदराबाद। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बुधवार को कहा कि जब तक पाकिस्तान आतंकवाद को प्रायोजित करना बंद नहीं करेगा, तब तक दोनों देशों के बीच वार्ता नहीं हो सकती। उन्होंने कहा कि वार्ता और आतंकवाद एक साथ नहीं चल सकते। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान में अगले महीने होने जा रहे शिखर सम्मेलन में नहीं जाएंगे। उन्होंने कहा कि भारत हालांकि करतारपुर कॉरिडोर के विकास का स्वागत करता है, लेकिन हम तब तक वार्ता नहीं करेंगे, जब तक इस्लामाबाद आतंकवाद को बढ़ावा देना बंद नहीं करता। पाकिस्तान जैसे ही भारत में आतंकवादी गतिविधि रोकेगा, वार्ता शुरू हो जाएगी। वार्ता केवल करतारपुर कॉरिडोर से जुड़ी हुई नहीं है।

image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved