केरल में रेड अलर्ट खत्म, राहत कार्य में आई तेजी

By Independent Mail | Last Updated: Aug 19 2018 7:55PM
केरल में रेड अलर्ट खत्म, राहत कार्य में आई तेजी

एजेंसी, कोच्चि/तिरुवनंतपुरम । बाढ़ से जूझ रहे केरल में अब हालात धीरे-धीरे सुधर रहे हैं। शुक्रवार और शनिवार को बारिश में कमी के बाद अब सरकार ने सूबे के सभी 14 जिलों से रेड अलर्ट हटा लिया है। नौ अगस्त के बाद यह पहला मौका है, जब रेड अलर्ट हटाया गया है। बारिश में कमी और केंद्र एवं राज्य सरकार की ओर से राहत कार्य में तेजी आने से हालात सुधरे हैं। हालांकि भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक एर्नाकुलम, पथनमथिट्टा और अलप्पुझा जिले के कई इलाकों में भारी बारिश हो सकती है। बाढ़ की विभीषिका के चलते मई से अब तक मरने वालों की संख्या 370 हो गई है। फिलहाल 6,61,887 लोग 3,466 रिलीफ कैंपों में रह रहे हैं। सूबे में अलुवा, चालकुडी, चेनगन्नूर, अलप्पुझा और पथनमथिट्टा में बाढ़ ने सबसे ज्यादा कहर बरपाया है। एनडीआरएफ, आर्मी, नेवी और कोस्ट गार्ड यहां पूरी मुस्तैदी से बचाव एवं राहत कार्य में जुटे हुए हैं।

दूध, पानी, खाने के सामान भेजे गए

राज्य सरकार के अनुरोध पर 6,900 लाइफ जैकेट्स, 3,000 जीवन रक्षक पेटी, 167 टावर लाइट्स, 2100 रेनकोट्स, 1300 गमबूट्स और 153 चेन आरी उपलब्ध कराए गए हैं। कैबिनेट सचिव ने आईएएफ, नेवी और ओएनजीसी द्वारा पांच और हेलिकॉप्टरों को रविवार को भेजने के निर्देश दिए हैं। एजेंसी के मुताबिक अब तक विभिन्न केंद्रीय मंत्रालयों की ओर से तीन लाख खाने के पैकेट्स, लाखों लीटर दूध, 14 लाख लीटर पीने का पानी, पानी साफ करने की 150 किट (प्रत्येक की क्षमता 1 लाख लीटर) उपलब्ध कराए गए हैं। रविवार को नौसेना का जहाज दीपक राशन और पानी लेकर दक्षिणी नौसैन्य बेस पर पहुंचा।

कोच्चि नौसेना हवाई पट्टी पर भी उतरेंगे प्लेन

केरल बाढ़ पर सरकार की ओर से जानकारी दी गई है कि कोच्चि नौसेना हवाई पट्टी को सोमवार से वाणिज्यिक उड़ानों के लिए उपलब्ध कराया जाएगा। सभी मोबाइल ऑपरेटरों ने केरल में मुफ्त एसएमएस और डेटा सेवाओं की पेशकश की है।

image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved