मध्य प्रदेश में फर्जी नहीं, डुप्लीकेट वोटर थे: रावत

By Independent Mail | Last Updated: Aug 28 2018 7:26PM
मध्य प्रदेश में फर्जी नहीं, डुप्लीकेट वोटर थे: रावत

इंडिपेंडेंट मेल, भोपाल । भोपाल। मध्य प्रदेश में दो दिवसीय प्रवास पर आए मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत ने मंगलवार सुबह राजधानी के जहांनुमा पैलेस होटल में राजनीतिक दलों की बैठक ली। इस दौरान उन्होंने प्रदेश में फर्जी वोटर मामले में राजनीतिक दलों की फर्जी वोटर की शिकायत पर सफाई देते हुए कहा कि प्रदेश में फर्जी वोटर नहीं, बल्कि डुप्लीकेट वोटर थे। निर्वाचन आयोग ने मतदाता सूचियों की जांच करने के बाद उनमें सुधार किया है। निर्वाचन आयोग राजनीतिक दलों की शिकायतों पर संज्ञान ले रहा है और जो भी गड़बड़ियां मिलेंगी, उन्हें दुरुस्त किया जाएगा। दरअसल, इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनावों को लेकर मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत सहित निर्वाचन आयुक्त की टीम दिल्ली से सोमवार देर रात को दो दिवसीय प्रवास पर भोपाल पहुंची। मंगलवार को सुबह मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने मुख्य सचिव और डीजीपी के साथ कानून-व्यवस्था और प्रशासनिक तैयारियों की समीक्षा बैठक ली। इसके बाद उन्होंने होटल जहांनुमा पैलेस में राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर उनकी शिकायतों का समाधान किया।

चुनाव से पहले ठीक करेंगे मतदाता सूची

कांग्रेस की फर्जी वोटर वाली शिकायत पर उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि चुनाव आयोग सभी राजनीतिक दलों से मिल रही शिकायतों को गंभीरता से संज्ञान में ले रहा है। कांग्रेस की शिकायत पर चुनाव आयोग की टीम दिल्ली से प्रदेश के दौरे पर आई थी और सभी जगह मतदाता सूचियों की जांच की गई, जिसमें सामने आया कि कुछ मतदाताओं के फोटो गलत लगे हुए थे, कुछ के नाम दो-दो जगह दर्ज थे। निर्वाचन काम में जुड़े कर्मचारी डुप्लीकेट मतदाताओं को हटाकर मतदाता सूची को दुरुस्त करने में जुटे हुए हैं और चुनाव से पहले मतदाता सूची पूरी तरह ठीक कर ली जाएगी।

दिव्यांगजनों के लिए सुगम मतदान समिति गठित

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी मध्य प्रदेश के निर्देशानुसार कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. सुदाम खाड़े ने भोपाल जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों में दिव्यांग मतदाताओं को सुगम मतदान संपन्न कराने के लिए जिलास्तरीय सुगम मतदान समिति का गठन किया है। यह समिति चिन्हित दिव्यांग मतदाताओं को घर से घर तक की सुविधा मुहैया करायेगी। उल्लेखनीय है कि इस बार प्रत्येक बूथ लेवल सूची से दिव्यांग और ऐसे वृद्ध मतदाताओं का पूर्व से चिन्हांकन कर लिया जाएगा, जिन्हें मतदान के लिए सहयोग की आवश्यकता होती है। इन मतदाताओं को सुगम मतदान के लिए आवागमन, सहयोगी आदि की जो भी आवश्यकता होगी वह पूरी की जाएगी। इन वर्गों के मतदाता किसी सूचना एवं सहयोग के लिए समिति के सदस्य एवं संयुक्त संचालक सामाजिक न्याय विभाग मनोज तिवारी से मोबाइल 73546-21526 पर संपर्क कर सकते हैं।

मतदान के लिए ब्रांड आइकॉन भी आगे आये 

विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2018 में दिव्यांगजनों एवं सीनियर सिटीजन के सुगम मतदान कराये जाने के लिए कलेक्टर डॉ. सुदाम खाडे ने समन्वय एवं सुझावों के लिए जिला स्तरीय ब्रांड आइकॉन का मनोनयन किया है। उल्लेखनीय है कि यह ब्रांड आइकॉन दिव्यांग और सीनियर सिटीजन मतदाताओं से मतदान में होने वाली असुविधाओं को जानेंगे और जिला निर्वाचन द्वारा उनके लिए की गई सुविधाओं की जानकारी देंगे। सुगम मतदान समिति इन 'ब्रांड आइकॉन' से समन्वय करेगी और इनके सुझाव अनुरूप दिव्यांग एवं सीनियर सिटीजन की मतदान व्यवस्था सुनिश्चित करवाएगी।

image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved