छतरपुर में कार से ढाई करोड़ रुपये बरामद, तीन हिरासत में

By Independent Mail | Last Updated: Nov 4 2018 11:04PM
छतरपुर में कार से ढाई करोड़ रुपये बरामद, तीन हिरासत में

इंडिपेंडेंट मेल, छतरपुर। मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सीमावर्ती जिलों में जारी चौकसी के चलते कई स्थानों से नकदी पकड़े जाने का सिलसिला जारी है। शनिवार देर रात पुलिस ने एक कार से दो करोड़ 45 लाख रुपये की रकम बरामद की और तीन संदिग्धों को भी हिरासत में लिया। छतरपुर के कलेक्टर रमेश भंडारी ने नकदी बरामद होने और तीन लोगों की गिरफ्तारी की पुष्टि की।

झांसी से आ रही थी कार

कलेक्टर ने बताया कि जिस कार से नकदी बरामद हुई है, वह झांसी से हरपालपुर की तरफ जा रही थी। पुलिस को देखकर जब ड्राइवर ने गाड़ी की रफ्तार बढ़ाई, तो उसका पीछा किया गया। कार को रोककर जब जांच की गई, तो उसमें दो करोड़ 45 लाख रुपये पाए गए। कार में ड्राइवर, एक बंदूकधारी और एक अन्य व्यक्ति सवार था। तीनों पुलिस की हिरासत में हैं। अब आयकर विभाग और पुलिस द्वारा मामले की जांच की जा रही है।

बैंक का पैसा बता रहे संदिग्ध

कलेक्टर ने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपियों ने पुलिस से कहा कि नकदी एचडीएफसी बैंक की है, जिसे झांसी से राठ ले जाया जा रहा था। लेकिन वे अपने दावे को सच साबित करने के लिए कोई प्रमाण नहीं दे पा रहे हैं। वे इस सवाल का भी जवाब नहीं दे पा रहे हैं कि जब झांसी से राठ के लिए सीधा रास्ता है और इस रास्ते से दोनों शहरों की दूरी भी कम है, तब उन्होंने मध्य प्रदेश वाला और ज्यादा दूरी का रास्ता क्यों चुना? झांसी से राठ के लिए और भी सीधे रास्ते हैं, लेकिन आरोपियों ने जब दूरी की परवाह नहीं की, तो नकदी का मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव से संबंध हो सकता है। कलेक्टर ने बताया कि पुलिस को इन सभी सवालों के जवाब खोजने के निर्देश दे दिए गए हैं। गौरतलब है कि चुनाव आयोग के स्पष्ट निर्देश हैं कि अगर किसी के पास 50 हजार रुपए से ज्यादा की नकदी मिलती है, तो उसे संदिग्ध मानकर जांच की जाए।

बालाघाट में दो लाख जब्त

पुलिस और वाणिज्य कर विभाग के उड़न दस्ते ने बालाघाट के रजेगांव के पास से भी एक कार से दो लाख रुपए पकड़े हैं। इस वाहन से बरामद की गई राशि सीज कर नएगांव थाने में जमा करा दी गई है। वाणिज्य कर विभाग के अधिकारी जितेन्द्र मिश्रा ने बताया कि रजेगांव के पास वाहनों की जांच के दौरान गोंदिया से आ रही एक कार की जांच की गई, तो उसमें दो लाख रुपये की नकदी बरामद की गई। वाहन में मौजूद व्यक्ति ने बताया कि वह गोंदिया से वारासिवनी लेबर पेमेंट की राशि लेकर जा रहा है। लेकिन वह व्यक्ति नगद राशि के संबंध में एक भी दस्तावेज उपलब्ध नहीं करा सका।

image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved