नेता प्रतिपक्ष ने विस अध्यक्ष को कहा तानाशाह, दिया अविश्वास प्रस्ताव

By Independent Mail | Last Updated: Mar 21 2018 3:20PM
नेता प्रतिपक्ष ने विस अध्यक्ष को कहा तानाशाह, दिया अविश्वास प्रस्ताव

इंडिपेंडेंट मेल, भोपाल। विधानसभा की कार्यवाही के दौरान 21 मार्च को कांग्रेस विधायकों ने जमकर हंगामा किया। विधानसभा अध्यक्ष सीताशरन शर्मा के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव तक दे दिया। इस दौरान नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने उन्हें तानाशाह तक कह दिया। नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह, डॉ. गोविंद सिंह और रामनिवास रावत ने विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया। नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि संसदीय कार्य मंत्री के इशारे पर विधानसभा में काम हो रहा है। विधानसभा अध्यक्ष से निष्पक्षता की उम्मीद की जाती है, लेकिन वे हमेशा विपक्ष की आवाज दबाते हैं। 

जब मंत्री ने बहू स्वीकार कर लिया तो बचा ही क्या?

बुधवार को विधानसभा में प्रीति रघुवंशी आत्महत्या मामले में हंगामे के चलते सदन की कार्यवाही 1 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। इसके पहले कांग्रेस के आरिफ अकील, डॉ. गोविंद सिंह, रामनिवास रावत ने स्थगन प्रस्ताव स्वीकार कर चर्चा कराने का मुद्दा उठाया। इस पर संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा, जब रामपाल सिंह ने लड़की को बहू स्वीकार कर लिया, तो फिर अब बचा क्या है। 

सदन को विपक्ष ने बना दिया अखाड़ा : मिश्रा

कांग्रेस ने प्रीति रघुवंशी के परिजनों को धमकाने का मामला उठाया। संसदीय मंत्री मिश्रा ने कहा कि विपक्ष सदन को राजनीति का अखाड़ा बना रहा है। प्रश्नकाल नहीं चलने दिया जा रहा है, जो आपत्तिजनक है। विधानसभा अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि विधायकों के विशेषाधिकार का हनन नहीं कर सकते, कई विधायकों ने महत्वपूर्ण प्रश्न लगाए हैं। प्रश्नकाल के दौरान बसपा की ऊषा चौधरी ने लिपिक वर्गीय कर्मचारियों को समयमान वेतनमान नहीं मिलने का मुद्दा उठाया। शोरगुल में जब मंत्री जवाब नहीं दे सके, तो सामान्य प्रशासन राज्यमंत्री लाल सिंह आर्य ने कहा कि एक अनुसूचित जाति की महिला को सवाल उठाने से रोका जा रहा है, यह एससी की महिला को रोकने का षड्यंत्र है, कांग्रेस अनुसूचित जाति विरोधी है।

 

 

 
image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved