साध्वी प्रज्ञा की आपत्तिजनक टिप्पणी से भाजपा ने किया किनारा

By Independent Mail | Last Updated: Apr 20 2019 11:10AM
साध्वी प्रज्ञा की आपत्तिजनक टिप्पणी से भाजपा ने किया किनारा

इंडिपेंडेंटमेल, भाेपाल। भाजपा ने भोपाल से अपनी उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के शहीद हेमंत करकरे को लेकर दिए आपत्तिजनक बयान से दूरी बना ली है। चुनाव आयोग द्वारा बयान का संज्ञान लेने और कांग्रेस द्वारा निशाना साधने के बाद बीजेपी ने बयान जारी कर कहा कि पार्टी ने हमेशा हेमंत करकरे को शहीद माना है। बीजेपी के राष्ट्रीय मीडिया प्रमुख अनिल बलूनी की ओर से जारी बयान में कहा गया, बीजेपी का स्पष्ट मानना है कि स्वर्गीय हेमंत करकरे आतंकियों से बहादुरी से लड़ते हुए वीरगति को प्राप्त हुए। बीजेपी ने हमेशा उन्हें शहीद माना है। आपको बता दें कि शुक्रवार को साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने भोपाल में मीडिया से बातचीत में कहा कि उन्होंने करकरे से कहा था कि तुम्हारा सर्वनाश होगा। इतना ही नहीं, प्रज्ञा ने कहा कि वह (करकरे) तमाम सारे प्रश्न करता था। ऐसा क्यों हुआ, वैसा क्यों हुआ? यह उसकी कुटिलता थी। यह देशद्रोह था, यह धर्मविरुद्ध था।

भाजपा ने कहा, साध्वी का निजी बयान :-

शुक्रवार शाम में भाजपा ने बयान जारी कर कहा कि जहां तक साध्वी प्रज्ञा के इस संदर्भ (हेमंत करकरे) में बयान का विषय है, तो वह उनका निजी बयान है, जो वर्षों तक उन्हें हुई शारीरिक और मानसिक प्रताड़ना के कारण दिया गया होगा।' इससे पहले कांग्रेस ने शहीद के अपमान का आरोप लगाते हुए मांग की थी कि पीएम मोदी को देश से माफी मांगनी चाहिए। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने पीएम से मांग करते हुए कहा कि मुंबई आतंकी हमले से लेकर पुलवामा हमले तक के शहीदों के प्रति अगर जरा सा भी सम्मान है, तो प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई की जानी चाहिए।

प्रज्ञा के बयान पर टिप्पणी से दिग्विजय का इंकार

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर द्वारा मुंबई आतंकवादी हमले के दौरान शहीद हुए आईपीएस अधिकारी हेमंत करकरे पर की गई टिप्पणी पर कांग्रेस उम्मीदवार व पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कोई प्रतिक्रिया देने से शुक्रवार को इंकार कर दिया। सिंह ने प्रज्ञा ठाकुर की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया मांगी तो उन्होंने कहा कि वह अपने प्रतिद्वंद्वी पर कोई टिप्पणी नहीं करते। उन्होंने हेमंत करकरे की शहादत को देश के लिए गर्व बताते हुए कहा, वह (हेमंत करकरे) ईमानदार व कर्तव्यनिष्ठ अधिकारी थे, जिन्होंने देश की रक्षा के लिए अपनी जान गंवाई थी। देश के लिए शहादत देने वालों पर किसी को भी टिप्पणी नहीं करना चाहिए।

image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved