घायल हथिनी के उपयोग पर हाईकोर्ट ने मांगी रिपोर्ट

By Independent Mail | Last Updated: Jun 4 2018 9:17PM
घायल हथिनी के उपयोग पर हाईकोर्ट ने मांगी रिपोर्ट

इंडिपेंडेंट मेल, इंदौर। जादूगर आनंद के शो में कथित तौर पर घायल हथिनी के इस्तेमाल के मामले में मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय ने सोमवार को राज्य सरकार से रिपोर्ट तलब की। उच्च न्यायालय की इंदौर पीठ के न्यायमूर्ति सुबोध अभ्यंकर ने एक याचिका पर सुनवाई के दौरान प्रदेश सरकार को आदेश दिया कि वह 'रजनी' नाम की हथिनी के स्वास्थ्य की मौजूदा स्थिति को लेकर अपनी रिपोर्ट पेश करे। अदालत ने मामले में अगली सुनवाई के लिए सात जून की तारीख तय की है। पशु हितैषी संस्था 'पीपुल फॉर एनिमल्स' की स्थानीय इकाई की ओर से याचिका में आरोप लगाया गया है, कि जादूगर आनंद के शो में घायल हथिनी का क्रूरतापूर्ण इस्तेमाल किया गया।

आनंद ने आरोप को बताया गलत

इस बीच, आनंद अवस्थी उर्फ जादूगर आनंद की ओर से अदालत में पेश जवाब में इस आरोप को गलत बताया गया है। जवाब में कहा गया है कि हथिनी घायल नहीं है और जादू के खेल में उससे ऐसा कोई करतब नहीं कराया गया, जिससे उसके स्वास्थ्य पर कोई विपरीत असर पड़ता हो।

जिम्मेदारों पर कार्रवाई की मांग

याचिका में कहा गया है कि अलग-अलग अंगों में चोटों और शारीरिक विकृतियों के चलते इस हथिनी के लिए चलना-फिरना भी दूभर है। इसके बावजूद जादू के शो के विशुद्ध कारोबारी कार्यक्रम में उसका कथित रूप से क्रूरतापूर्ण इस्तेमाल किया गया। याचिका में अदालत से गुहार लगाई गयी है कि उचित उपचार के बाद घायल हथिनी को जंगल के प्राकृतिक वातावरण में छोड़ने का आदेश दिया जाए। इसके साथ ही जादू के खेल में उसके इस्तेमाल के लिए जिम्मेदार आनंद और अन्य लोगों के खिलाफ उचित कदम उठाए जाएं।

image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved