शाहजहाँ से पूछ लो, इश्क में खर्चा तो होता ही है...

By Independent Mail | Last Updated: Jan 18 2018 6:05PM
शाहजहाँ से पूछ लो, इश्क में खर्चा तो होता ही है...
 
 
 
 
नवल कान्त सिन्हा
 
इंडिपेंडेंट मेल। माना कि दुनिया में इश्क से बड़ा कुछ भी नहीं लेकिन कसम से मुहब्बत से ज़्यादा खर्च भी किसी चीज़ में नहीं है। विश्वास न हों तो आशिकों से संपर्क कर लीजिये। अरे जिसने इश्क किया हो, वही तो जानेगा कि मुहब्बत में पैसे की बैंड कैसे बजती है। उधार क्या होता है, मोहल्ले की आशिकों से पूछिए, दिल पर हाथ रखकर बताएँगे। लेकिन क्या करें बेचारे, ये इश्क नहीं आसां इतना ही समझ लीजे, खुद के तिजोरी की चाभी है और माल उड़ाना है। मुझको तो लगता है कि जो रईस हैं, वो भी जानते हैं कि इश्क में पैसा तो फुर्र होता ही है।
आप इतना तो मानेंगे कि मैंने न कभी नूरजहाँ को देखा होगा और न मेरी शाहजहाँ से कभी वन टू वन मुलाक़ात हुई होगी। हाँ, इतना जरूर है कि मैंने ताजमहल को जरूर देखा है। कभी परिसर के अन्दर से तो कभी यमुना पार से, कभी भरी दुपहरी में तो कभी अलसुबह। ऊपर से नीचे घंटो निहारने और पूरा दिन इधर-उधर टहलने के बाद मेरे जेहन में एक सवाल ने कुलांचे भरी थीं। अब आप पूछेंगे कि वो सवाल क्या है, तो सुन लीजिये। यूं ही मुझे ख्याल आया कि ताजमहल जब बनकर तैयार हुआ होगा और बादशाह शाहजहाँ कभी यूं ही ताजमहल में टहल रहे होंगे तो मन में एकबारगी ख्याल तो आया ही होगा कि उफ़ इश्क में काफी पैसा खर्चा हो गया। वैसे ये भी हो सकता है कि ऐसा ख्याल न आया हो, मेरे जैसे गरीब टाइप के आदमी के जेहन में बिलावजह ऐसे काल्पनिक सवाल पैदा हो गया हो।
अब इश्क में बड़े-बड़े खर्चे का चलन कोई मुग़ल काल से तो शुरू नहीं हुआ होगा। अरे ये तो सनातन परम्परा है और आज तक चली आ रही है। अब अपने कप्तान विराट कोहली और बॉलीवुड की एक मलिका-ए- हुस्न अनुष्का शर्मा को ही ले लीजिये। शादी तो कहीं भी हो सकती थी लेकिन ये इश्क है जनाब। महबूबा को इम्प्रेस करना आसान तो होता नहीं। फिर इश्क भी उससे जिस पर लाखों फ़िदा। तो भैया अपने विराट कोहली ने सोचा होगा कि कर डालो कुछ ख़ास। बस यहीं से खर्च की शुरुआत हो गयी होगी। कोई बता रहा था सगाई की अंगूठी
में एक खोखा निपट गया। मैंने पूछा कैसे तो बताया गया कि भई बड़ा खिलाड़ी है और हिट हिरोइन है, कोई ऐसी वैसी अंगूठी तो होनी नहीं थी। ऑस्ट्रिया के डिजाइनर ने डिजाइन करवाया गया। ज़ाहिर है उसकी ख़ूबसूरती उनके इश्क की तरह बिखर रही होगी। मतलब ये समझ लीजिये कि चाहे इस एंगल से देखो या उस एंगल इंतेहाई खूबसूरत। अब जो इतनी नायाब अंगूठी ले रहा हो, वो यूं ही कहीं मंदिर में शादी तो निपटा नहीं देगा। जानम समझा करो, सोने जैसे इश्क के लिए पानी की तरह पैसा बहाना ही पड़ता है। अब मीडिया के विशेषज्ञ फोटो और वीडियो देखकर अंदाजा लगा रहे हैं कि कितनी दौलत इश्क में लुटाई गयी। ये टीवी देखो या वो टीवी देखो, सभी कुछ ऐसा बता रहे हैं कि जैसे सबसे पहले उन्होंने शादी पर अपडेट किया। मीडियावालों ने जोड़ घटाकर पूरी शादी का खर्चा भी बता दिया। तो भैया शादी हुई इटली के टसकनी शहर में पहाड़ी इलाके के बीचों- बीच बोर्गो फिनोशीटो रिजॉर्ट में। टीवी से लेकर अखबार तक और फेसबुक से लेकर वाट्सएप तक लोगों ने रटवा ही दिया होगा कि इस रिजॉर्ट में अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा अपने परिवार सहित मौज-मस्ती कर
चुके हैं। रिजॉर्ट में केवल 22 कमरे हैं तो 40 से 44 मेहमान ही टिक सकते हैं। 6 एकड़ का रिज़ॉर्ट है और 5 विला है। फोर्ब्स के महंगे विला की सूची में ये नंबर दो पर है आदि-आदि। खर्चा भी सुन लीजिये, इस होटल में सिर्फ एक रात गुजारने का किराया 13 लाख 50 हजार रुपए है। 800 साल पुराने गांव को भी सजाया तो खर्चा और भी हुआ होगा। हफ्ताभर रुक गए तो एक आदमी पर खर्चा करीब एक करोड़ रूपये। मतलब मेहमानों को ठहराने में ही 45-50 करोड़ रुपए नमस्ते हो गए। शादी का कुल खर्च सौ खोखे तक खर्च पहुँच गया हो तो कोई
आश्चर्य की क्या बात। वैसे ये खर्चा भी कोई खर्चा है। भाईसाहब हिट हिरोइन से इश्क का मामला था। अब देखिये न अपने सलमान खान भाई क्या किसी से कमज़ोर हैं, पता नहीं कितने दशकों से न जाने कितनों से इश्क कर चुके हैं लेकिन अबतक एक भी मामला सही नहीं बैठ पाया। जो इस दर्द को समझते हैं, वो जानते हैं ये खर्चा कोई बुरा नहीं। ये बात किसी से छुपी तो है नहीं कि किसी राजनीतिक दल के अध्यक्ष बनने से कठिन है एक अदद प्रेमिका की तलाश करना, और उससे भी ज़्यादा कठिन है उससे शादी करना। इसी वजह से एक बात तो तय है कि मुहब्बत में आशिक अपनी हैसियत से ज़्यादा खर्च करने को तैयार रहता है। फिर जो जेब से पैसे न निकाल सके, वो इश्क की बाजी कैसे लगा सकता है। वो फैज़ अहमद फैज़ का शेर हैं न... गर बाजी इश्क की बाजी है, जो चाहो लगा दो डर कैसा, गर जीत गए तो क्या कहना, हारे भी तो बाजी मात नहीं।
image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved