आरोप: समाचार कांग्रेस के चार मंत्रियों ने कराया था प्लांट

By Independent Mail | Last Updated: Feb 7 2019 1:42PM
आरोप: समाचार कांग्रेस के चार मंत्रियों ने कराया था प्लांट
  • 2012 में तख्तापलट की उड़ी खबर पर बीजेपी ने एक रिपोर्ट के हवाले कांग्रेस पर बोला हमला

एजेंसी, नई दिल्ली। यूपीए-2 सरकार के कार्यकाल के दौरान 2012 में सैन्य तख्तापलट की उड़ी खबरों को लेकर बीजेपी ने एक अखबार की रिपोर्ट के हवाले से कांग्रेस पर बुधवार को बड़ा हमला बोला है। दिल्ली में बीजेपी मुख्यालय में पार्टी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हाराव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, यूपीए के शासनकाल में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने भारतीय सेना के खिलाफ खबरें प्रायोजित कराई थीं। मनमोहन सरकार के चार मंत्रियों ने देश की आर्मी के खिलाफ गलत खबरें छपवाने की साजिश रची और तख्तापलट की झूठी खबर छपवाकर सेना का अपमान किया गया। यह देश के साथ गद्दारी थी। बीजेपी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस पार्टी के शासनकाल में न केवल भ्रष्टाचार हुआ, बल्कि राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ खिलवाड़ भी किया गया। पार्टी ने इस पूरे मामले की संसदीय कमेटी से जांच की मांग करते हुए राहुल गांधी से जवाब मांगा है। जीवीएल नरसिम्हाराव ने कहा, वह इस मामले की जांच की मांग संसद में भी उठाएंगे। कांग्रेस को अपने उन पूर्व मंत्रियों के खिलाफ कार्रवाई करनी पड़ेगी, जिन्होंने फर्जी खबर छपवाकर सेना को बदनाम करने की चेष्टा की थी।

पूछे सवाल

जीवीएल नरसिम्हाराव ने कांग्रेस से चार सवाल भी पूछे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस बताए कि तख्तापलट की गलत खबर के पीछे का मकसद क्या था? इस खबर को फैलाने वाले चार मंत्री कौन थे? कहीं इस तरह की खबरों के पीछे गांधी परिवार खास तौर पर राहुल गांधी का हाथ तो नहीं था? कहीं पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के कहने पर तो कांग्रेस नेताओं ने भारतीय सेना को बदनाम करने वाली हरकत नहीं की।

यह है मामला

बता दें कि जनवरी-2012 में अंग्रेजी के एक अखबार में खबर प्रकाशित हुई थी कि सेना ने मनमोहन सिंह सरकार का तख्ता पलटने की कोशिश की थी। इसके लिए आगरा से एक यूनिट ने दिल्ली की तरफ कूच किया था। उस समय जनरल वीके सिंह भारतीय थलसेना के अध्यक्ष थे और उनकी जन्मतिथि को लेकर विवाद चल रहा था। ऐसे समय में तख्तापलट की खबर प्रकाशित होने से देश भर में बवाल मच गया था। अब बुधवार को एक अंग्रेजी अखबार ने यह खबर छापी है कि 2012 में तख्तापलट की जो खबर छपी थी, वह मनमोहन सिंह सरकार के चार मंत्रियों ने प्रायोजित कराई थी। हालांकि, अखबार ने अपनी खबर में उन मंत्रियों के नाम नहीं बताए हैं।

image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved