कई जिलों में बारिश के साथ गिरे ओले, फसलों को नुकसान

By Independent Mail | Last Updated: Feb 15 2019 11:18PM
कई जिलों में बारिश के साथ गिरे ओले, फसलों को नुकसान

इंडिपेंडेंट मेल, भोपाल। प्रदेश में इन दिनों मौसम में काफी उतार-चढ़ाव देखा जा रहा है। गुरुवार-शुक्रवार देर रात को राज्य के कुछ हिस्सों में बारिश और ओलावृष्टि हुई। इसका सबसे ज्यादा असर किसानों पर पड़ रहा है, वहीं वायरल की वजह से लोग बीमार हो रहे हैं। इसके चलते सरकारी अस्पतालों में मरीजों की भारी भीड़ देखी जा रही है। गुरुवार-शुक्रवार की रात को राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के कई हिस्सों में ओलावृष्टि और बारिश हुई। ओलावृष्टि से फसलों को भारी नुकसान पहुंचा। वहीं, शुक्रवार की सुबह तेज धूप खिलने से लोगों को उमस और गर्मी का सामना करना पड़ा। प्रदेश के शहडोल, सतना, मंडला, डिंडौरी, नरसिंहपुर, हरदा आदि जिलों में गुरुवार रात को बारिश के साथ ओले गिरे। मौसम विभाग ने आगामी दो दिनों तक ऐसा ही मौसम बने रहने की संभावना जताई है। सतना शहर, सोहावल, सेमरी, पथरोंदा और इटमा में ओले गिरने की वजह से खेतों में खड़ी गेहूं, सरसों और चने की फसल को भारी नुकसान हुआ है। मंडला और हरदा जिले में भी कई गांवों में शुक्रवार की सुबह भी हल्की बूंदाबांदी हुई है। ओलावृष्टि की वजह से हुए नुकसान की भरपाई के लिए राज्य सरकार ने राहत राशि का ऐलान किया है।

अगले 24 घंटों में फिर पड़ सकती हैं बौछारें

मौसम विभाग के मुताबिक, हिमालय क्षेत्र में हुई बारिश का असर राज्य पर पड़ रहा है। अगले 24 घंटों में भी प्रदेश के कई हिस्सों में बौछारें पड़ने की संभावना है। शुक्रवार को भोपाल का न्यूनतम तापमान 17.6 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 14.6, ग्वालियर का 14 और जबलपुर का न्यूनतम तापमान 16.4 सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं, गुरुवार को भोपाल का अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 31.1 डिग्री सेल्सियस सेल्सियस, ग्वालियर का 27.4 डिग्री सेल्सियस और जबलपुर का अधिकतम तापमान 32.1 डिग्री सेल्सियस रहा।

image
Copyrights @ 2017 Independent NewsCorp (P) Ltd., Bhopal. All Right Reserved